Email ID : {{site_email}}
Contact Number : {{site_phone}}

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रहण

Surya Grahan 2017 क्या आप जानते है वर्ष 2017 मे कितने सूर्य ग्रहण होंगे और सूर्य ग्रहण के समय क्या न करें जो आपके लिए हानिकारक होता है?

 

आपने भौतिक विज्ञानं में सूर्य ग्रहण होने का कारण तो पढ़ा होगा लेकिन क्या आप जानते है ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रहण का क्या कारण होता है: आइये हम बताते है की क्या है इसके पीछे की धारणा :

 

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रहण कैसे होता है?

 

ऐसा माना जाता है जब राहु या केतु ग्रह सूर्य ग्रह को खा लेते है तो ये सूर्य ग्रहण होता है, पुराणों में सूर्य ग्रहण के और भी कारण दिए गए है, और एक बात जो आपको जाननी चाहिए की सूर्य ग्रहण हमेशा अमावस्या को होता है |

 

 

3 प्रकार के सूर्य ग्रहण होते है:

 

1. पूर्ण सूर्य ग्रहण (जब चन्द्रमा पूरी तरह से सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है)

 

2. आंशिक सूर्य ग्रहण (जब चन्द्रमा सूर्य के कुछ भाग को ही ढकता है )

 

3. वलयाकार सूर्य ग्रहण (जब चन्द्रमा सूर्य के केवल मध्य भाग को ही ढकता है)

 

ख़रीदे माँ कामाख्या सिन्दूर और अपनी व्यापार में, धन में, नौकरी और रिलेशनशिप में आ रही परेशानियों को दूर करें, Click Here

 

वर्ष २०१७ में दो सूर्य ग्रहण है:

 

पहला सूर्य ग्रहण 26 फरवरी 2017 दिन रविवार को समय : शाम 5 :40 से रात 11:05 तक होगा |

 

ये एक आंशिक सूर्य ग्रहण होगा और सिर्फ अफ्रीका, दक्षिणी अमेरिका महाद्वीपो में दिखेगा, भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और नेपाल में सूर्य ग्रहण नहीं दिखेगा |

 

सूर्य ग्रहण शुरुआत समय : 5:40

 

संपूर्ण सूर्य ग्रहण समय : 6:45

 

सूर्य ग्रहण उतरने का समय : 8:23 - 10:01

 

सूर्य ग्रहण समाप्ति का समय : 11:05

 

दूसरा सूर्य ग्रहण 21 अगस्त 2017 दिन सोमवार को समय: शाम 9:16 से 22 अगस्त सुबह 2 :34 तक होगा |

 

ये सूर्य ग्रहण यूरोप, उत्तर / पूर्व एशिया, उत्तर / पश्चिम अफ्रीका, उत्तरी और दक्षिण अमेरिका के कुछ हिस्सो में दिखेगा, एशिया महादीप के किसी भी हिस्से में ये सूर्य ग्रहण नहीं दिखेगा |

 

For Chandra Grahan 2017 Click Here...

 

कुछ रोचक तथ्य :

 

खगोल शास्त्र के अनुसार एक वर्ष में 5 सूर्य ग्रहण और २ चंद्र ग्रहण तक हो सकते हैं और वर्ष में २ सूर्य ग्रहण को निश्चित हैं, यदि किसी वर्ष 2 ग्रहण है तो वो दोनों ही सूर्य ग्रहण होंगे कोई चंद्र ग्रहण नहीं होगा उस वर्ष |

 

अपने नाम, जन्म तिथि और गोत्र के आधार पर पूजा करवाये और प्रसाद पाएं अपने घर पर, Click Here

 

सूर्य ग्रहण के समय क्या करे क्या न करे :

 

सूर्य ग्रहण के समय क्या न करे :

 

  • अगर सूर्य ग्रहण लगा हो तो ग्रहण के समय भोजन न करे क्योकि ऐसा माना जाता है की ग्रहण के कारण कीड़े मकोड़े फ़ैल जाते है और हारक एक खाद्य पदार्थ दूषित हो जाता है |
  • ग्रहण के पहले स्नान न करे क्योकि ग्रहण के बाद नकारात्मक ऊर्जा आपके शरीर में प्रवेश करती है,
  • गर्भवती महिलाओ को सूर्य ग्रहण नहीं देखना चाहिए, इस से शिशु के अंग क्षीड़ हो जाते है और गर्भ पात की सम्भावना बढ़ जाती है,
  • गर्भवती महिलाओ को कोई भी चीज़ काटनी या सिलनी नहीं चाहिए,
  • ग्रहण के समय स्नान न करे, तेल न लगाए, रति क्रीड़ा न करे, मंजन न करे,
  • राहु और केतु से सम्बंधित कोई भी वस्तु न छुए न उसके पास जाये,

 

सूर्य ग्रहण के समय क्या करे:

 

वैसे ये सारे कार्य जो हम बताने जा रहे है वो प्रायः ग्रहण समाप्त होने के बाद किये जा सकते हैं :

 

  • स्नान ग्रहण समाप्त होने के बाद करें और वो भी घर के जल से इस से आपके अंदर जितनी भी नकारात्मक ऊर्जा गई होगी वो निकल जाएगी,
  • स्नान करने के ब्राह्मणों को भोजन या दान देने से पुण्य मिलता है,
  • ग्रहण के बाद सूर्य, चंद्र, राहु, केतु की पूजा करे या अपने नाम पर करवाये इस से जितने भी आपके अंदर या आपके परिवार के अंदर दोष होंगे वो सब निकल जायेंगे |
  • ग्रहण के समय गायों को घास, पक्षियों को दाने और जरूरतमंदों को अन्न देने से पुण्य मिलता है,
  • अगर आपकी शनि की साढ़े साती चल रही है तो शनि की पूजा करें और करवाये इस से आप पर शनि का प्रभाव कम होगा, क्योकि शनि सूर्य और छाया के पुत्र है |
  • ग्रहण के दौरान शिव जी की पूजा करें और शिव जी के किसी भी मंत्र का जाप करें,

 

जानें अपनी कुंडली के बारे में, हमें भेजे अपना नाम, जन्मतिथि, जन्म का समय और जन्म स्थान, Click Here

 

अगर आपकी शनि की साढ़े साती चल रही है तो ?

 

सूर्य ग्रहण के समय यदि आपकी शनि की साढ़े साती चल रही है तो आप को सूर्य पूजा, शनि पूजा और चंद्र पूजा करवानी चाहिए, इस से ये सारे ग्रहो का प्रभाव आपके ऊपर सकारात्मक होगा, आप हमसे भी सारे ग्रहो की पूजा करवा सकते है, हम आपकी कुंडली को विचार कर आपके लिए कौन सा ग्रह हानिकारक होगा और कौन सा लाभ प्रदान करेगा ये बता देंगे |

 

आपको कौन सा रुद्राक्ष और रत्न धारण करना चाहिए ये भी हम आपकी कुंडली के अनुसार आपको बताते हैं, यदि आपको शनि पूजा, शनि साढ़े साती पूजा शिव पूजा, काल सर्प दोष पूजा या नवग्रह पूजा करवानी है या कोई भी अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो हमसे संपर्क कर सकते हैं, हमारा संपर्क नंबर है 9069100911.

 

सूर्य ग्रहण या चंद्र ग्रहण की जानकारी के लिए आप ऊपर दिए गए नंबर पर संपर्क करे यदि आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी तो कृपया हमारा फेसबुक पेज लाइक और शेयर करें| आगे हम आपको चंद्र ग्रहण के बारे में जल्द बताएँगे | धन्यवाद् ||

 

पढें महाशिवरात्रि 2017 शिव पूजा और पूजा सामग्री के बारे में , Click Here

 

Click Here for Remedies of Lord Surya >>

 

Click Here for Puja of Lord Surya >>

 

Click Here for Shani Puja >>

 

Click Here for Dosha in your kundali Analysis >>

 

Click Here for Analyze the kundali >>

 

Click Here for future Prediction 2017 >>

 

Click Here for Vedic Astrology and Remedies >>

Astrology Services

Here is complete Astrology Services by Vedic Astrology Experts of Kamiya Sindoor team. You can contact us for any astrology related query.... Read more...

Puja Services

Book Online Puja Services with the help of Kamiya Sindoor Vedic Pandit team, and get holy Prasad of the puja at your home of any temple or God and Goddess... Read more...

Religious Products

Buy any Religious Product with complete consultation about its price, quality, uses and pujan vidhi from the spiritual products expert of Kamiya Sindoor... Read more...

Personalize Horoscope

Get your Personalize Horoscope from the Vedic Astrology Expert of the Kamiya Sindoor on the basis of the Birth details and Question Kundali... Read more...

Astrology Predictions

Get Astrology Predictions like Business, career, job, marriage etc predictions from the Astrology expert of kamiya sindoor team... Read more...

Kundali Dosha and Remedies

If you are suffering from Kundali Dosha and want to know the Remedies then contact our Kundali Expert Pandit Ji for the solution of problem... Read more...

Personalize Astrology Report

Get your Personal Astrology Report based on the Birth details of your and know about the complete future what will happen in your life... Read more...