Email ID : {{site_email}}
Contact Number : {{site_phone}}

सरस्वती पूजा सम्पूर्ण विधि मंत्रो सहित हिंदी में

माता सरस्वती ज्ञान की देवी है जो विद्यार्थी माता सरस्वती की पुजा अर्चना करते है। उन्हे पढाई मे आ रही दिक्कत दूर हो जाती है। आइये जानते है कि सरस्वती पुजा विधि क्या है, कौन सी पूजन सामाग्री की आवश्यकता होती है

 

पुजन विधि

 

  1. सुर्यादय होने से पहले स्नान कर लें।
  2. उसके पश्चात् माता सरस्वती की आराधना करें।
  3. फिर अपना आसन ग्रहण करें। तपाश्चत् अपने चारो तरफ गंगा जल छिड़कि।
  4. उसके बाद माता सरस्वती की प्रतीमा के आगे दीपक जलायें।
  5. उसके बाद माता सरस्वती को श्रीखंड चंदन का तिलक लगायें।

 

मंत्र

 

।। ओम अपवित्र पवित्रोवा सर्वावस्थां गतोअपिवा। य स्मरेत् पुण्डरीकाक्षं स बाह्माभ्यन्तर शुचि ।।

।। ओम केशवाय नम ओम माधवाय नम ।।

।। ओम नारायणाय नम ।।

।। ओम पृथ्वी त्वयाधृता लोका देविं त्यवं विष्णुनाधृता ।।

।। त्वं च धारयमां देवि पविंत्रं कुरुं चासनम् ।।

।। संकल्प मंत्र –II यथोपलब्धपूजनसामग्रीभ भगवत्या सरस्वत्या पूजनमहं करिष्ये ।।

।। ध्यान मंत्र –I या कुन्देन्दु तुषारहार धवला या शुभ्रवस्त्रावृता ।।

।। या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना ।।

।। या ब्रह्माच्युतशंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा वन्दिता ।।

।। सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा ।।

।। शुक्लां ब्रह्मविचारसारपरमांद्यां जगद्व्यापनीं ।।

।। वीणा-पुस्तक-धारिणीमभयदां जाड्यांधकारपहाम् ।।

।। हस्ते स्फाटिक मालिकां विदधतीं पद्मासने संस्थिताम् ।।

।। वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदाम् ।।

 

पूजन सामाग्री

 

  1. चंदन
  2. पुष्प
  3. गंगाजल
  4. पुजा की थाली
  5. घी
  6. दिया
  7. कपूर
  8. कलावा
  9. कलश
  10. नारियल
  11. बतासे
  12. केले
  13. अगरबत्ती
  14. धूप
  15. सफेद रंग की मिठाई
  16. सफेद रंग का कपडां

 

लाभ

 

  • इस पुजा को करने से सबसे अधिक लाभ विद्धार्थी को होता है।
  • विद्धार्थी के जिंदगी में आ रही पढाई संबंधित परेशानियां धीरे धीरे खत्म होने लगती है।
  • जिन विद्धार्थी के नम्बर पढाई में कम आता है उन्हे विशेष रुप से इस दिन पुजा करनी चाहिये।

 

For more details, you can contact us at +919870286388 or email us at contact@kamiyasindoor.com