Email ID : {{site_email}}
Contact Number : {{site_phone}}

कृष्ण जन्माष्टमी पूजा सम्पूर्ण विधि मंत्रो सहित हिंदी में

भगवान श्री कृष्ण के जन्मदिन को कृष्ण जन्माष्टमी को मनाया जाता है। कृष्ण जनमाष्टमी भाद्रपद माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन मंदिरो में बडी धुम धाम देखी जाती है। भारतवर्ष के मुख्य उत्सावो में बहूत धुम धाम से मनाया जाता है।

 

इस दिन दही हाण्डी तोडने की प्रथा भी मानी जाती है। इस दिन भक्तगण व्रत रखते है और रात 12 बजे कृष्ण के जन्म के बाद तोड़ दिया जाता है। इस दिन जो भक्तगण पुरे विधि विधान के साथ भगवान श्री कृष्ण का व्रत रखते है। उनकी जिंदगी में चल रही परेशानियों का नाश होने लगता है व कई प्रकार के पापो से भी मुक्ति मिल जाती है।

 

कृष्ण जन्माष्टमी – 2 सितम्बर 2018

 

पुजन विधि

 

  1. इस दिन पुरे दिन व्रत रखने की प्रथा है जो रात 12 बजे कृष्ण जन्म के बाद तोड़ जाता है।
  2. सर्वप्रथम सुर्यादय होने से पुर्व स्नान करें व्रत का संकल्प करना चाहियें।
  3. उसके पश्चात् भगवान श्री कृष्ण का आराधना करनी चाहियें।
  4. इस दिन किसी को अपशब्द नही बोलने चाहिये।
  5. घर में पुर्व दिशा की तरफ भगवान श्री कृष्ण जी का झुला आम की लकडी से बना चाहियें।
  6. इस बार लाल रंग का वस्त्र बिछाना चाहियें। लाल वस्त्र अत्यंत पवित्र माना जाता है।
  7. इस दिन भगवान कृष्ण की मनपसंद चीजे बनानी चाहियें। 12 बजे के बाद स्नान के बाद भगवान श्री कृष्ण को भोग लगाना चाहियें। भोग लगाने के बाद यह प्रसाद सभी को बांट कर स्वंय भी ग्रहण करना चाहियें।
  8. इस दिन पुरी रात जाग कर श्री कृष्ण जी भगवान का जाप करना चाहियें।

 

मंत्र

 

इस मंत्र का जाप 1008 बार करना चाहिये

 

।। ओम वासुदेवाय नम: ।।

 

पुजन सामाग्री

 

  1. गंगाजल
  2. श्री कृष्ण जी की प्रतिमा
  3. रोली
  4. घी
  5. दही
  6. दुध
  7. शहद
  8. आम की लकडी
  9. लाल रंग का वस्त्र
  10. आगरबत्ती
  11. धूप
  12. कपूर

 

लाभ

 

  • अगर आप के प्रेम विवाह में दिक्कत आ रही है तो इस दिन पुरी विधि विधान से पुजा करने से आपके प्रेम विवाह में आ रही परेशानियां दुर होती जायेगी।
  • मनचाहा साथी पाने के लिये भी यह पुजा बहूत महत्वपूर्व है।
  • अगर पति – पत्नी के बीच चल रहे मन मुटाव पर पुर्ण विराम लग जाता है। पति – पत्नी के बीच के प्रेम को बढने में भी मदद करता है।
  • घर में सुख शांति का वाश होता है।

 

For more details, you can contact us at +919870286388 or email us at contact@kamiyasindoor.com